थाना ततारपुर द्वारा बलात्कार का आरोपी बाल अपचारी निरूद्व
Date : Tuesday, November 14, 2017

थाना ततारपुर ने दिनांक 13.11.2017 को परिवादी निवासी ततारपुर बताया की उसकी सगाई लगभग 1 वर्ष पुर्व हुई थी। मेरे होने वाले पति से मेरे मोबाइल नम्बर लेकर स्वंम बनकर फोन करने लग गया, मैने एक आदि बार टोका भी लेकिन लडके से भूलवस से अपना पति समझकर बात करती रही। और आरोपी अनेक बार हमारे गाँव आया तथा मुझे बेला फुसलाकर कई बार एकान्त मे ले जाकर बात करने लगता था ।दिनांक 23/10/17 को मे बैंक मे मेरी दादी का खाता बन्द करवाने गई थी तो बाहर मुझे मिला तथा एकान्त मे चलने हेतू बोला इस पर मैने मना किया तो मेरा मोबाइल छिन लिया तथा कहने लगा कि मेरे पीछे-पीछे आजा आगे फोन तेरे को दे दूँगा, इसके बाद प्रिन्स इण्डिया स्कूल के सामने पहाडी पर चढकर मे पीछे-पीछे फोन लेने गई तो फोन मुझे नही दिया तथा जबरदस्ती मुझे पहाडी मे गडडा था वहाँ पर मुझसे बलात्कार किया तथा उसके बाद फोन लेकर चला गया तथा धमकी दी कि मे तेरा पति नही हूँ अब तेरा मोबाइल मेरे पास है या तो तू मेरे साथ चल वरना मै और मेरे परिवार वाले तुझे उठाकर ले जाएगे। इसके बाद कहा कि मेरे कृत्य के बारे मे किसी को बताया तो तुझे जान से मार डालेंगे, तेरे घरवालो को भी जान से मार डालेंगे। इस प्रकार सारी बात मेने परिवारवालो को बताई दिनांक 25/1/17 को उसका मामा जो चूडला का निवासी है वह भी हमारे घर के आस पास बाईक से रैकी करता हुआ पकडा जिसको पुलिस थाने मे सुपुर्द कर दिया गया। वह मेरे मेरी माँ, मेरा भाई, मेरा ताऊ आदि को मेरे मोबाइल से फोन करके धमकिया देता रहा है। और कहता मेरे साथ नही भेजा तो सारे परिवार को खत्म कर दुँगा। आदी मजमून रिपोर्ट से मामला जुर्म धारा 420,379,376 भादस का पाया जाने पर अभियोग सं. 204/17 धारा उपरोक्त मे कायम कर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया। आरोपी पुलिस से बचने के लिये छिपता फिर रहा था जिसके घर व अन्य संभावित छुपने की जगह पर कई बार दबिस दि गई लेकिन हर बार बच निकलता थानाधिकारी द्वारा दबाव बढाने पर व बचने के सारे रास्ते बंद होने पर दिनांक 13.11.17 को अपने पिता के साथ उपस्थित थाना आया व बाद तफतीश बाल अपचारी आरोपी को निरूद्व किया गया एवं मुकदमा हाजा मे पिडीता से छिना हुआ मोबाईल बरामद किया गया।